जय माता दी  (Jai MATA DI)

“ सर्वमङ्गलमाङ्गल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके । शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तु ते ॥
 

Sati (सती)

2014-12-21 16:40:42, comments: 0

पौराणिक कथाओं मे सती को शिव की पूर्व पत्नी कहा जाता है। दक्ष प्रजापति की कन्या का नाम (दाक्षायनी) दिया जाता है। मगर सती शब्द शक्ति नाम का अपभ्रंश रूप है।

 

शक्ति का दूसरा नाम ही सती है। सती भगवान बृह्मा जी की पौत्री है। जिन्होने पूरी सृष्टि की रचना की थी।

Categories entry: Encyclopedia
« back

Add a new comment

Search