जय माता दी  (Jai MATA DI)

“ सर्वमङ्गलमाङ्गल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके । शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तु ते ॥
 

शंगचुल महादेव मंदिर – घर से भागे प्रेमियों को मिलता है यहां आश्रय

2018-06-05 16:42:45
Sangchul Mahadev Temple, Kullu – हिमाचल प्रदेश जितना अपनी प्राकृतिक सुंदरता के कारण जाना जाता है उतना ही यहां की परंपराओं के कारण भी। आज हम आपको बता रहा है कुल्लू के शांघड़ गांव के देवता शंग...
read more

ब्राह्मण पुत्र होने के बाद भी परशुराम में क्यों थे क्षत्रियों के गुण

2018-06-05 16:39:59
Kahani Bhagwan Parshuram Ki | यह तो हम सभी जानते है की भगवान परशुराम एक ब्राह्मण थे। लेकिन आचरण उनका क्षत्रियों जैसा था।ब्राह्मण पुत्र होते हुए भी परशुराम में क्षत्रियों के गुण क्यों थे, इसका जवाब जान...
read more

''प्रभू, मुझे यह जीवन क्यों मिला?

2018-04-29 16:01:19
एक बार एक आदमी महात्मा बुद्ध के पास पहुंचा। उसने पुछा- ''प्रभू, मुझे यह जीवन क्यों मिला? इतनी बड़ी दुनिया में मेरी क्या कीमत है?'' बुद्ध उसकी बात सुनकर मुस्कराए और उसे एक चमकीला पत्थर देते हुए बोले, ...
read more

​रामायण के अनुसार​ नारी गहने क्यों पहनती हैं ?​

2018-03-24 01:06:17
​जय माता दी​ भगवान राम ने धनुष तोड दिया था, सीताजी को सात फेरे लेने के लिए सजाया जा रहा था तो वह अपनी मां से प्रश्न पूछ बैठी, ​‘‘माताश्री इतना श्रृंगार क्यों?’’​ ‘&lsquo...
read more

माता नैना देवी चालीसा

2018-03-04 11:49:05
दोहानेनो बस्ती छवि सकता दुरगे नेना मॅट |प्रथा काल सिमरन कारू की विख्यात जग हैं |सुख वैभव साब आपके चरणो का प्रताप |ममता अपनी दीजिए माई बालक कारू जाप | | चोपैईनमस्कार हैं नेना माता | दीन दुखी की भाग्य ...
read more

मनसा देवीजी की चालीसा

2018-03-04 11:46:39
मनसा देवीजी का मन्त्र ॥ ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं एं मनसा दैव्ये स्वाहा॥ ॥ मनसा देवीजी की चालीसा-अमृतवाणी ॥ मनसा माँनागेश्वरी , कष्ट हरन सुखधाम। चिंताग्रस्त हर जीव के, सिद्ध करो सब काम॥ देवी घट-घट वासिनी, ह...
read more

माता वैष्णो देवी जी चालीसा

2018-03-04 07:14:42
गरूड़ वाहिनी वैष्णवी त्रिकुटा पर्वत धाम ।काली, लक्ष्मी, सरस्वती शक्ति तुम्हें प्रणाम ।।चौपाईनमो नमो वैष्णो वरदानी । कलिकाल में शुभ कल्यानी ।।मणि पर्वत पर ज्योति तुम्हारी ।पिंडी रूप में हो अवतारी ...
read more

Search