जय माता दी  (Jai MATA DI)

“ सर्वमङ्गलमाङ्गल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके । शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तु ते ॥
 

तपस्या में बैठे भगवान शिव के पसीने से नर्मदा प्रकट हुई।

2020-01-19 12:50:02
#जय_हो_मांँ_नर्मदे=============* जन्म कथा 1 : कहते हैं तपस्या में बैठे भगवान शिव के पसीने से नर्मदा प्रकट हुई। नर्मदा ने प्रकट होते ही अपने अलौकिक सौंदर्य से ऐसी चमत्कारी लीलाएं प्रस्तुत की कि खुद शिव...
read more

कथा प्रसंग तीनों देव वैद्य

2020-01-19 12:48:49
  एक ही तत्त्व उत्पत्ति, स्थिति और संहार के लिए ब्रह्मा, विष्णु और शिव - इन तीन रूपों में आया है । इस दृष्टि से ब्रह्मा को जब आयुर्वेद का आविर्भावक माना जाता है, तो रुद्र और विष्णु को भी आयुर्वे...
read more

क्षमादान से बडा कोई यज्ञ नहीं...

2020-01-19 12:47:15
  क्षमादान से बडा कोई यज्ञ नहीं...क्षमः यशः क्षमा दानं क्षमः यज्ञः क्षमः दमः ।क्षमा हिंसा: क्षमा धर्मः क्षमा चेन्द्रियविग्रहः ॥ अर्थात् :-क्षमा ही यश है क्षमा ही यज्ञ और मनोनिग्रह है ,अहिंसा धर...
read more

इस स्थान पर हुआ था लव कुश का जन्म, अमृतसर

2019-11-17 07:01:42
उत्तरी भारत में पंजाब राज्य में अमृतसर से 11 किमी दूर अमृतसर-चोगावा रोड पर प्राचीन व ऐतिहासिक धार्मिक स्थल 'श्री राम तीर्थ मंदिर' स्थित है। यह मंदिर भगवान् राम को समर्पित है। न केवल इस मंदिर का, अपितु...
read more

जुल्फा माता मंदिर

2019-11-16 18:04:43
जुल्फा माता मंदिर उत्तर भारत के नांगल शहर में एक हिंदू मंदिर है। कहानी के अनुसार, राक्षस थे जो हिमालय पर्वत पर देवताओं को परेशान कर रहे थे। देवताओं ने उन्हें नष्ट करने का फैसला किया। भगवान विष्णु उनक...
read more

श्री कालहस्ती मंदिर का इतिहास

2019-11-16 17:50:48
आंध्र प्रदेश में एक ऐसा मंदिर है जहां राहुकाल की बड़ी पूजा होती है। यही नहीं इस मंदिर की कमाई भी कम नहीं हैं। राज्य के चित्तूर जिले में स्थित श्री कालाहस्ती मंदिर की सालाना कमाई सौ करोड़ रुपए से भी अध...
read more

मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग का इतिहास कहानी

2019-11-16 17:43:59
Sri Sailam Mallikarjuna Jyotirlinga History    शिवपुराण के कोटिरुद्रसंहिता”में मल्लिकार्जुन के बारे में बताया गया है। मल्लिका का अर्थ माँ पार्वती है और अर्जुन शिव जी को कहा जाता है। ...
read more

Search