जय माता दी  (Jai MATA DI)

“ सर्वमङ्गलमाङ्गल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके । शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तु ते ॥
 

माँ मुरारी देवी जी की अमर कथा

2019-10-08 12:07:34
प्राचीन काल में पृथ्वी पर मूर नामक एक पराक्रमी दैत्य हुआ। उस दैत्य ने ब्रह्मा की घोर तपस्या की और उनसे वरदान मांगा कि मैं अमर हो जाऊं। तब ब्रह्मा जी ने कहा कि मैं विधि के विधानों से बन्धा हूं, इस...
read more

अर्गला स्तोत्र अस्यश्री अर्गला स्तोत्र मन्त्रस्य विष्णुः ऋषिः।

2019-10-08 12:02:37
अस्यश्री अर्गला स्तोत्र मन्त्रस्य विष्णुः ऋषिः। अनुष्टुप्छन्दः। श्री महालक्षीर्देवता। मन्त्रोदिता देव्योबीजं।नवार्णो मन्त्र शक्तिः। श्री सप्तशती मन्त्रस्तत्वं श्री जगदन्दा प्रीत्यर्थे सप्तशती पठां गत्...
read more

कीलक स्तोत्र ॥अथ कीलकस्तोत्रम्॥ ॐ नमश्चण्डिकायै

2019-10-08 12:01:10
मार्कण्डेय उवाच –ॐ विशुद्धज्ञानदेहाय त्रिवेदीदिव्यचक्षुषे।श्रेयःप्राप्तिनिमित्ताय नमः सोमार्धधारिणे ॥1॥सर्वमेतद्विजानीयान्मन्त्राणामभिकीलकम् ।सोऽपि क्षेममवाप्नोति सततं जप्यतत्परः ॥2॥सिद्ध्य...
read more

कर्मों का फल तो भुगतना ही पड़ता है

2019-10-08 11:59:14
बात प्राचीन महाभारत काल की है। महाभारत के युद्ध में जो कुरुक्षेत्र के मैदान में हुआ, जिसमें अठारह अक्षौहणी सेना मारी गई,  इस युद्ध के समापन और सभी मृतकों को तिलांजलि देने के बाद पा...
read more

ईश्वर सब की सुनता है

2019-10-08 11:51:35
जाड़े का दिन था और शाम होने आयी। आसमान में बादल छाये थे। एक नीम के पेड़ पर बहुत से कौए बैठे थे। वे सब बार बार काँव-काँव कर रहे थे और एक दूसरे से झगड़ भी रहे थे। इसी समय एक मैना आयी और उसी पेड़ की एक ड...
read more

नवरात्रि से संबंधित पौराणिक कथा

2019-10-07 17:02:04
  पौराणिक कथा के अनुसार कहा जाता है कि महिषासुर नामक राक्षस ब्रह्मा जी का बड़ा भक्त था। उसकी भक्ति को देखकर शृष्टि के रचयिता ब्रह्मा जी प्रसन्न हो गए और उसे यह वरदान दे दिया कि कोई देव, दानव या ...
read more

दसमहाविधाओ मे से आठवी महाविधा है देवी बगलामुखी (Maa Baglamukhi Pauranik Katha)

2019-10-06 17:07:20
एक बार सतयुग में महाविनाश उत्पन्न करने वाला ब्रह्मांडीय तूफान उत्पन्न हुआ, जिससे संपूर्ण विश्व नष्ट होने लगा इससे चारों ओर हाहाकार मच गया। संसार की रक्षा करना असंभव हो गया। यह तूफान सब कुछ नष्ट-भ्रष्ट...
read more

Search