जय माता दी  (Jai MATA DI)

“ सर्वमङ्गलमाङ्गल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके । शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तु ते ॥
 

Nav Durga Vrat Katha (navratri vrat katha)

2014-12-20 19:40:10, comments: 0

नवरात्र-दुर्गापूजा

नवरात्री दुर्गा के नव रूप – नवरात्र-दुर्गापूजा
नवरात्रि का त्योहार नौ दिनों तक चलता है। इन नौ दिनों में तीन देवियों पार्वती, लक्ष्मी और सरस्वती के नौ स्वरुपों की पूजा की जाती है। पहले तीन दिन पार्वती के तीन स्वरुपों (कुमार, पार्वती और काली), अगले तीन दिन लक्ष्मी माता के स्वरुपों और आखिरी के तीन दिन सरस्वती माता के स्वरुपों कीपूजा करते हैं।वासन्तिक नवरात्रि के नौ दिनों में आदिशक्ति माता दुर्गा केउन नौ रूपों का भी पूजन किया जाता है। माता के इन नौ रूपों को नवदुर्गा केनामसे भी जाना जाता है। नवरात्रि के इन्हीं नौ दिनों पर मां दुर्गा के जिननौरूपों का पूजन किया जाता है वे हैं – पहला शैलपुत्री, दूसरा ब्रह्माचारिणी, तीसरा चन्द्रघन्टा, चौथा कूष्माण्डा, पाँचवा स्कन्द माता, छठा कात्यायिनी, सातवाँ कालरात्रि, आठवाँ महागौरी, नौवां सिद्धिदात्री।
Categories entry: Vrat Katha
« back

Add a new comment

Search