जय माता दी  (Jai MATA DI)

“ सर्वमङ्गलमाङ्गल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके । शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तु ते ॥
 

तिरुपति बालाजी मंदिर – Tirupati Balaji

2017-07-02 14:48:02, comments: 0

 

तिरुमाला पर्वत सेशाचालम पर्वत रेंज का ही एक भाग है। यह पर्वत समुद्री सतह से 853 मीटर (2799 फीट) की उचाई पर है। इस पर्वत की सात चोटियाँ भगवान आदिशेष के सात सिर को दर्शाती है। इन सात चोटियों को सेशाद्री, नीलाद्री, गरुदाद्री, अन्जनाद्री, वृशाभाद्री और वेंकटाद्री कहा जाता है। मुख्य मंदिर सातवी चोटी वेंकटाद्री पर बना हुआ है, जहाँ श्री स्वामी पुष्करिणी का प्रवित्र पानी से भरा टैंक भी है। इस मंदिर को “टेम्पल ऑफ़ सेवन हिल्स (Temple of Seven Hills)” भी कहा जाता है। तिरुमाला गाव 10.33. वर्ग मीटर (26.75 किलोमीटर वर्ग) के क्षेत्र में बसा हुआ है।

इस मंदिर को द्रविड़ियन आर्किटेक्चर में बनाया गया है और लोगो का मानना है की इसे एक दशक से भी ज्यादा के समय में बनाया गया था जिसकी शुरुवात 300 AD में हुई थी। गर्भगृह को अनंदा निलयम भी कहा जाता है। भगवान् वेंकटेश्वर गर्भ गृह में पूर्व की तरफ मुह करके खड़े है। इस मंदिर में पूजा करने की वैखनासा अगमा परंपरा को अपनाया जाता है। यह मंदिर 8 विष्णु स्वयंभू क्षेत्र में से एक है और इसे धरती पर वेंकटेश्वर के बने मंदिरों में अंतिम मंदिर माना गया है। तीर्थयात्रियों की गर्दी को नियोजित करने के लिए वर्तमान मंदिर में 2 पंक्तियाँ बनाई गयी है, इसके साथ ही श्रद्धालुओ को मुफ्त भोजन देने के लिए त्रिगोंडा वेंकमाम्बा अन्नप्रसादम कॉम्प्लेक्स बनाया गया है। इसके साथ ही मुंडन (बाल कटवाना) करवाने के लिए विशेष गृह और तीर्थयात्रियों के लिए रहने की व्यवस्था भी की गयी है।

तिरुपति बालाजी मंदिर / Tirupati Balaji Temple विश्व का सबसे समृद्ध और धनवान मंदिर है, जहाँ भक्तगण करोडो रुपयों का दान देते है। रोज़ तक़रीबन 50,000 से 100,000 तीर्थयात्री मंदिर के दर्शन करने आते है, विशेष रूप से त्यौहार और फेस्टिवल के समय यह संख्या 500,000 से भी उपर की हो जाती है। तिरुपति बालाजी मंदिर को विश्व का सबसे प्रसिद्ध स्थान माना जाता है।

तिरुपति मंदिर, विजयवाडा से 435 किलोमीटर दूर है, हैदराबाद से 571.9 किलोमीटर , चेन्नई से 138 किलोमीटर, बंगलौर से 291 किलोमीटर और विशाखापत्तनम से 781.2 किलोमीटर दुरी पर स्थित है।

Categories entry: Temple
« back

Add a new comment

Search