जय माता दी  (Jai MATA DI)

“ सर्वमङ्गलमाङ्गल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके । शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तु ते ॥
 

जानिए क्या हैं 84 लाख योनियां

2016-02-21 19:11:33, comments: 0

की मान्यता के अनुसार जीवात्मा योनियों में भटकने के बाद पाती है। 84 लाख योनियां निम्नानुसार मानी गई हैं।

* पेड़-पौधे - 30 लाख

* कीड़े-मकौड़े - 27 लाख

* पक्षी - 14 लाख

* पानी के जीव-जंतु - 9 लाख

* देवता, मनुष्य, पशु - 4 लाख

Categories entry: story / History
« back

Add a new comment

Search